महिलायो मे बढती बीमारियI

increasing Women illness
महिलायो मे बढती बीमारियI 
 
भारतीय महिलायो मे बीमारियों का ग्राफ तेजी से बढ रहा है । वह तेजी से ह्रदय व मानसिक बीमारियों से ग्रसित हो रही है । इसका प्रमुख कारण महिलायो मे बढता तनाव, अस्वस्थ खान पान, शराब सिगरेट का सेवन और असंतुलित जीवन शैली है। महिलायो मे दिल सम्बन्धी बीमारियों मे इजाफा हो रहा है । 40 से कम उम्र की महिलायो मे यह आंकड़ा ज्यादा बढ रहा है । महिलायो की जीवन शैली मे पहले के मुकाबले बहुत अंतर देखने को मिलता है । अधिकांशत: महिलाये आत्मनिर्भर  बन रही है । महिलाये शादी विवाह की अपेक्षा अपने कैरियर की ओर ज्यादा सजग होकर ध्यान दे रही है । एक अध्ययन के अनुसार कैरियर की भागदौड मे महिलाये अपने  विवाह की ओर ध्यान नही दे रही है । और इसके चलते उम्र बढने के साथ साथ वह एकाकीपन की शिकार हो जाती है । यह अकेलापन  उन्हें  तनावग्रस्त कर रहा है । बहुत सी तनावग्रस्त महिलाये शराब सिगरेट आदि व्यसनों  मे पङ जाती है। दूसरी ओर  घरेलू महिलाये घर की जिम्मेदारीयो मे इतनी उलझ जाती है की अपनी तरफ ध्यान ही नही दे पाती। अस्वस्थ खान पान,  गर्भावस्था मे कुपोषण आदि से भी महिलाये गंभीर बीमारियों  की चपेट मे आ रही है । भारत में महिलाओ में स्तन कैंसर ओर सर्वाइकल कैंसर का खतरा सबसे ज्यादा  बढ़ रहा है!  कई बार समय पर उचित इलाज के आभाव मे स्तिथि  ज्यादा गंभीर हो जाती है । महिलायो से ही दुनिया का अस्तित्व है । उन्हें बाकि बातो के साथ सबसे पहले स्वयं  के स्वास्थ का ध्यान रखना अनिवार्य है ।
loading...