महाजाम की मुसीबत

traffic,delhi
महाजाम की मुसीबत 
 
जाम का झमेला दिन ब दिन बढती परेशानी का सबब बनता जा रहा है । शहरो मे यह जाम महाजाम का रूप लेता जा रहा है । रोज मर्रा के जीवन मे भी लोगो का समय से कार्यस्थलो तक पहुंचना आसान नही रह गया । और अगर कोई त्यौहार पङ जाये तो मुख्य मार्गो पर सुबह से लेकर शाम तक वाहन रेंगते रहते है । पुलिस व्यवस्था पूरी तरह चौपट नजर आती है। क्योंकि वाहनो का अचानक दवाब बढ जाता है । इससे निजात पाने के लिए अतिरिक्त पुलिस बल लगाना भी निषप्रभाबी नजर आता है । सङके गाङियो से लदालद रहती है । मिनटो का सफर घण्टो  मे तय होता है । किसी का भी समय पर अपने गंतवय  तक पहुंचना मुश्किल काम बन चुका है । लगातार बढती आबादी, वाहनो की संख्या मे होता इजाफा, जगह जगह ओवरब्रिज का निर्माण, खराब सङके और सभी को अपने अपने गंतव्यों पर पहुंचने की जल्दी जाम की स्तिथि पैदा करती है । हालांकि विषेश प्रयोजनों पर परिवहन निगम टैफिक पुलिस द्वारा जाम से निपटने के लिए अतिरिक्त इन्तजाम किये जाते है । पर ज्यादा दवाब के चलते सारे इन्तजाम निषप्रभाबी होने लगते है । अगर जाम के उपरोक्त कारण ऐसी ही गति से बढते गये तो एक दिन मनुष्य का सङको पर चलना तक दूभर हो जायेगा ।
loading...