history-of-india

जो राष्ट्र पूरे विश्व का गुरु है, उसका इतिहास जानिए।

जो राष्ट्र पूरे विश्व का गुरु है, उसका इतिहास जानिए।   ‘भारतीय ऐतिहासिक कालानुक्रम’ (क्रोनोलॉज़ी) मेरे सर्वाधिक प्रिय विषयों में से है और विगत डेढ़ दशक से मैं इस विषय पर अन्वेषण और लेखन-कार्य कर रहा हूँ। इस सन्दर्भ में सन् 2009 में मेरी पुस्तक ‘भगवान् बुद्ध और उनकी इतिहाससम्मत तिथि’ इलाहाबाद से प्रकाशित हुई […]

origin of hindi

हिन्दी भाषा का उद्गम

हिन्दी भाषा का उद्गम अपभ्रंस से, और इसका उद्गम हुआ विदेशी आक्रमण कारियों की घुसपैठ से, शब्द हिंदी नहीं शब्द हिंद फारसी का है,,प्राचीन काल में ईसाई इब्रानी को मूल भाषा मानते थे, मगर जब और शोध और खोज हुयी तो एक ऐसी भाषा सामने आई जो न संस्कृत थी, न पाल,न प्राकृत, और न […]

price of meat

मांस का मूल्य

💫 💫 💫 🐮 *मांस का मूल्य*💰 मगध सम्राट बिंन्दुसार ने एक बार अपनी सभा मे पूछा : देश की खाद्य समस्या को सुलझाने के लिए *सबसे सस्ती वस्तु क्या है ?* मंत्री परिषद् तथा अन्य सदस्य सोच में पड़ गये ! चावल, गेहूं, ज्वार, बाजरा आदि तो बहुत श्रम के बाद मिलते हैं और […]

#revoiceindia

जब हवाई अड्डा शत्रु के कब्जे में जाने से बच गया!

स्थान -श्रीनगर (कशमीर) समय – 1965 का युद्ध शत्रू तेज गति से आगे बढ रहे थे कशमीर को शीघ्र सैन्य मदद चाहिए थी।    दिल्ली के सेना कार्यालय से श्रीनगर को संदेश प्राप्त हुआ कि किसी भी परिस्थिति में श्रीनगर के हवाई अड्डे पर शत्रु का कब्जा नहीं होना चाहिए।शत्रु नगर को जीत ले ,तो […]

India is a place where the worship of Lord Hanuman is forbidden revoiceindia

चिरंजीवी हनुमान

चिरंजीवी हनुमान    हनुमान को अजर अमर कहा गया है । अंजनी पुत्र हनुमान को अजर अमर रहने का वरदान मिला हुआ है। कहा जाता है की माता सीता ने हनुमान को लंका की अशोक वाटिका में श्री राम का संदेश सुनने के बाद आशीर्वाद दिया था कि वे अजर-अमर रहेंगे।  हनुमान जी की गणना अन्य […]

मोदी का बेहद शातिर खेल

मोदी का बेहद शातिर खेल

: मोदी का बेहद शातिर खेल I चीन का ग्वादर पोर्ट जाने का रास्ता बलूचिस्तान होकर जाता है और चीन वहां पर पाक सेना की मदद से जनता को मारने का सिलसिला चला रखा है और साथ ही लगभग 2 अरब डॉलर का निवेश भी कर रहा है । अभी चीन को पता चल रहा […]

22-08-2015 02_45_5802

उत्तर पूर्व भारत की लड़कियों पर देह व्यापर का शिकंजा

उत्तर पूर्व भारत की लड़कियों पर देह व्यापर का शिकंजा     पिछले कुछ समय से उतर पूर्व भारत की लङकियो की तस्करी के मामले ज्यादा सामने आये है। पश्चिमी बंगाल पहले से ही ऐसी घटनाओ के लिए बदनाम है। अभी असम की एक नाबालिग लङकी को अपहरण करके लाया गया और 50 साल के […]

14784

भारत जैसी आजादी और कहीँ मिल ही नही सकती

पीठ मे छुरा घोपने की आदत पुरानी   पाकिस्तान को इस समय गंभीर आत्मचिंतन की जरूरत है । यह नामुमकिन  नहीं  है कि बांग्लादेश की तरह बलूचिस्तान भी पाकिस्तान के खूनी शिकंजे से मुक्त हो जाए। पाकिस्तान की नियत  तो बलूचिस्तान को परदेसियो के यहा गिरवी रखने की है। पूरा बलूचिस्तान पाकिस्तान की इस दो […]

केजरीवाल घिरे मुसीबत में revoiceindia

केजरीवाल की एक और टेंशन

केजरीवाल की एक और टेंशन    दिल्ली के उप राज्यपाल नजीब जंग ने दिल्ली के  कई प्रशासनिक अधिकारीयों का तबादला करके केजरीवाल की मुश्किलें बढ़ा दी! अधिकारीयों के तबादले से केजरीवाल का  का दिमाग एक बार फिर गरम हो गया है! और  उन्होंने ट्वीट के जरिये अपनी बौखलाहट और नाराजगी व्यक्त की है । दरअसल […]

big_451347_1488980392

संतत्व दिवस

संतत्व दिवस     दया की देवी मदर टरेसा को चार सितम्बर को संत की उपाधि दी जायेगी । संत  की उपाधि एक ऐसा सम्मान है! जिसमे पोप द्वारा  यह घोषणा की जाती है कि वह व्यक्ति जिसे उपाधि दी जा रही है । वह ईश्वर की कृपा प्राप्त करने के लिए पूर्ण  सत्यनिष्ठां  के […]

0.98663100_1468414738_kashmir-protest

कश्मीर समस्या पर कांग्रेस का विरोधाभासी रुख

कश्मीर समस्या पर कांग्रेस का विरोधाभासी रुख     कांग्रेस, कश्मीर समस्या पर ना सीधी चलती है और ना ही उल्टी। उसका रुख पूरी तरह विरोधाभासी प्रतीत होता है! पूरी दुनिया को पता है  कि कश्मीर समस्या के जन्मदाता कांग्रेस के पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु थे! कश्मीर में हिंसा कांग्रेस और नेशनल कांफ्रेंस की साझा […]

Ganesha ekadant legend,श्री गणेश एकदंत कथा

गणेशोत्सव – श्री गणेश का अवतरण

गणेशोत्सव – श्री गणेश का अवतरण    शिवपुराण में भाद्रपद मास की चतुर्थी को मंगलमूर्ति गणेश की अवतरण-तिथि बताया गया है ! इस पावन अवसर पर प्रत्येक वर्ष गणेशोत्सव मनाया जाता है! गणेशोत्सव हिंदू धर्म का एक प्रसिद्ध त्यौहार है। महाराष्ट्र में गणेशोत्सव की सबसे अधिक धूम देखने को मिलती है। यह त्यौहार पूरे 10 दिनों […]

मजदूर संघटनो की हङताल के मायने revoiceindia

मजदूर संघटनो की हङताल के मायने

मजदूर संघटनो की हङताल के मायने    केन्द्र सरकार की तमाम कोशिशो के बावजूद भी 2 सितंबर को देश भर के मजदूर संघटनो की हङताल  है। बीते समय में सरकार ने न्यूनतम मजदूरी बढाने और केन्द्रीय कर्मचारियों  को बोनस देने जैसी तमाम घोषणाये की है । मजदूर संघटनो की कई मांग जायज भी है । […]

dhruv tara

कहानी ध्रुव तारा बनने की

कहानी ध्रुव तारा बनने की   राजा उत्तानपाद की सुनीति और सुरुचि नामक दो पत्नियां थीं। राजा उत्तानपाद और सुनीति के पुत्र ध्रुव हुए और सुरुचि से उत्तम नामक पुत्र हुए। उत्तानपाद का प्रेम सुरुचि के प्रति अधिक था। एक बार सुनीति का पुत्र  ध्रुव अपने पिता की गोद में बैठा खेल रहा था। इतने […]

सोशल नेटवर्किंग के शिकार revoiceindia

सोशल नेटवर्किंग के शिकार

सोशल नेटवर्किंग के शिकार     फेसबुक पर आकर्षक चहरो को अपनी मित्र सूची मे शामिल करने से पहले जरा सावधान हो जाने की जरूरत है । संभव है कि दोस्त बन कर कोई हमे ठगने की साजिश कर रहा हो । पिछले कुछ महीनो मे ऐसे ठगी के मामले ज्यादा बङे है। महिलाओ के […]

Farmers win-Singur land acquisition

किसानो की जीत-सिंगूर भूमि अधिग्रहण

किसानो की जीत    एक दशक पहले  बंगाल  मे किसानो को अपनी जमीन अनिच्छापूर्वक टाटा मोटर्स को देनी पडी थी । जमीन अधिग्रहण मामले मे सर्वोच्च न्यायलय का फैसला उन किसानो के लिए अत्यंत सुखद है । कोर्ट के फैसले ने बंगाल सरकार को भी बङी राहत और नैतिक जीत दी है । सिंगुर मे […]

Hanuman Panchamukhi

क्यों और कैसे बने पंचमुखी हनुमान

क्यों और कैसे बने पंचमुखी हनुमान     माँ सीता को रावण के चंगुल से वापस लाने हेतु राम और रावण की सेना के बीच भयंकर युद्ध चल रहा था | रावण की पराजय निकट थी | उसी समय रावण ने अपने मायावी भाई अहिरावन को याद किया, जो माँ भवानी का परम भक्त होने के साथ […]

भगवान विष्णु ने लिया राम अवतार

क्यों भगवान विष्णु ने लिया राम अवतार

क्यों भगवान विष्णु ने लिया राम अवतार   एक बार देवर्षि नारद को  इस बात का घमंड हो गया कि कामदेव भी उनकी तपस्या और ब्रह्मचर्य को भंग नहीं कर सकते। तब  भगवान विष्णु ने देवर्षि नारद का घमंड तोड़ने के लिए एक लीला रची! जब नारद कहीं जा रहे थे, तब रास्ते में एक नगर में  किसी राजकुमारी के स्वयंवर का […]

कूटनीति और हम

कूटनीति और हम

कूटनीति और हम   कूटनीति मे धर्य और स्थायित्व  की जरूरत होती है । इसलिए तो अक्सर नेता चुनाव से पहले बङे बङे वायदे करते है, और बाद मे भूल जाते है । कूटनीति समय और परिस्थितियों के हिसाब से सत्ताधारियो की दशा व दिशा तय करती है । पल भर के फेर से कुछ […]

Surrogacy

सरोगेसी

सरोगेसी     कई पति-पत्नियों बच्चे को जन्म देने में  असमर्थ होते है ! कुछ मामलो में पति में कोई शारीरिक  समस्या होती है तथा कुछ में पत्निया बच्चे को जन्म देने में असमर्थ होती है ! ऐसे में उनका जीवन एक बच्चे के आभाव में नीरस हो जाता है! लकिन आज के समय में कुछ ऐसे तरीके है! जिसमे  पति […]

Gau-murder

गऊ-हत्या

गऊ-हत्या    गाय को हम सब हिन्दू, माता के रूप में मानते है ! और यह कोई नयी शुरू होने वाली मानयता नही है! यह वेदों – ऋषियों के काल से चली आ रही मानयता है! प्राचीन समय से ही गाय दान करना बहुत पुण्य का कार्य मन जाता था! पहले भी राजा महाराजा,ऋषियो मुनियो […]

Tuberculosis (TB) - a challenge for the country revoiceindia

क्षयरोग (टीबी) – देश के लिए एक चुनौती

क्षयरोग (टीबी) – देश के लिए एक चुनौती   भारत मे सर्वाधिक टीबी के मरीज है। देश के लिए यह बिमारी एक चुनौती बन चुकी है । कई मरीज ऐसे भी है जो कभी स्वस्थ नही हो सकते। इस रोग में  जन और धन दोनो को नुकसान पहुंचता है । सरकारी अस्पतालो मे टीबी के मुफ्त इलाज […]

Dhritarashtra Gandhari and Pandu Kunti  revoiceindia

क्यों जन्मे थे धृतराष्ट्र अंधे

 क्यों जन्मे थे धृतराष्ट्र अंधे    महाराज शांतनु और सत्यवती के दो पुत्र हुए थे, विचित्रवीर्य और चित्रांगद। चित्रांगद कम आयु में ही युद्ध में मारे गए। इसके बाद भीष्म ने विचित्रवीर्य का विवाह काशी की राजकुमारी अंबिका और अंबालिका से करवा दिया । विवाह के कुछ समय बाद ही विचित्रवीर्य की  बीमारी के कारण मृत्यु […]

shani dev revoiceindia

शनि देव को तेल चढ़ाने की कथा

शनि देव को तेल चढ़ाने की कथा     शनि देव के प्रकोप से सभी डरते है!  हमारी प्राचीन मान्यता है की शनि देव की कृपा प्राप्त करने के लिए हर शनिवार को शनि देव को तेल चढ़ाना चाहिए। शास्त्रों के अनुसार इसके पीछे यह कथा है! एक समय में  शनि को अपने बल और […]

lord shiv is called tripurari

भगवान शिव इसलिए कहलाते है, त्रिपुरारी

भगवान शिव इसलिए कहलाते है, त्रिपुरारी   भगवान शिव का एक नाम त्रिपुरारी भी प्रसिद्ध है! कहावत है, भगवान शिव ने तारकाक्ष, कमलाक्ष व विद्युन्माली के त्रिपुरों का नाश किया था। । त्रिपुरों का नाश करने के कारण ही भगवान शिव त्रिपुरारी कहलाये ! शिवपुराण के अनुसार, दैत्य तारकासुर के तीन पुत्र थे- तारकाक्ष, कमलाक्ष व […]

conditions of deadbodies revoiceindia

शवो की ऐसी दुर्दशा

जङ होता समाज    अंतिम  संस्कार  जीवन का आखिरी संस्कार है । परिजन मृत व्यक्ति का अंतिम संस्कार  पूरे विधि विधान से करते है । पर मरने के बाद शवो की दुर्दशा के मामले केवल प्रशासन ही नही पूरे समाज बल्कि यूँ  कहे कि पूरी मानवता को शर्मसार कर रहे  है। लावारिस शवो की दुर्गति […]

E-book and book revoiceindia

ई-बुक और किताब

 ई-बुक और किताब  लगभग एक दशक पहले कागज पर छपी हुई किताबो को श्रधांजलि देनी शुरू कर दी गयी थी। कहा जाने लगा था कि पढाई और अध्यन का भविष्य ई-बुक है। बाजार भी ई-बुक रीडरो से भर गया था । किताबो के ई-संस्करणों की बाजार मे जैसे बाढ सी आ गयी थी । और ईटरनेट ने इसे जैसे उंगलियो का खेल […]