big_451347_1488980392

संतत्व दिवस

संतत्व दिवस     दया की देवी मदर टरेसा को चार सितम्बर को संत की उपाधि दी जायेगी । संत  की उपाधि एक ऐसा सम्मान है! जिसमे पोप द्वारा  यह घोषणा की जाती है कि वह व्यक्ति जिसे उपाधि दी जा रही है । वह ईश्वर की कृपा प्राप्त करने के लिए पूर्ण  सत्यनिष्ठां  के […]

Ganesha ekadant legend,श्री गणेश एकदंत कथा

गणेशोत्सव – श्री गणेश का अवतरण

गणेशोत्सव – श्री गणेश का अवतरण    शिवपुराण में भाद्रपद मास की चतुर्थी को मंगलमूर्ति गणेश की अवतरण-तिथि बताया गया है ! इस पावन अवसर पर प्रत्येक वर्ष गणेशोत्सव मनाया जाता है! गणेशोत्सव हिंदू धर्म का एक प्रसिद्ध त्यौहार है। महाराष्ट्र में गणेशोत्सव की सबसे अधिक धूम देखने को मिलती है। यह त्यौहार पूरे 10 दिनों […]

dhruv tara

कहानी ध्रुव तारा बनने की

कहानी ध्रुव तारा बनने की   राजा उत्तानपाद की सुनीति और सुरुचि नामक दो पत्नियां थीं। राजा उत्तानपाद और सुनीति के पुत्र ध्रुव हुए और सुरुचि से उत्तम नामक पुत्र हुए। उत्तानपाद का प्रेम सुरुचि के प्रति अधिक था। एक बार सुनीति का पुत्र  ध्रुव अपने पिता की गोद में बैठा खेल रहा था। इतने […]

कूटनीति और हम

कूटनीति और हम

कूटनीति और हम   कूटनीति मे धर्य और स्थायित्व  की जरूरत होती है । इसलिए तो अक्सर नेता चुनाव से पहले बङे बङे वायदे करते है, और बाद मे भूल जाते है । कूटनीति समय और परिस्थितियों के हिसाब से सत्ताधारियो की दशा व दिशा तय करती है । पल भर के फेर से कुछ […]

Surrogacy

सरोगेसी

सरोगेसी     कई पति-पत्नियों बच्चे को जन्म देने में  असमर्थ होते है ! कुछ मामलो में पति में कोई शारीरिक  समस्या होती है तथा कुछ में पत्निया बच्चे को जन्म देने में असमर्थ होती है ! ऐसे में उनका जीवन एक बच्चे के आभाव में नीरस हो जाता है! लकिन आज के समय में कुछ ऐसे तरीके है! जिसमे  पति […]

Gau-murder

गऊ-हत्या

गऊ-हत्या    गाय को हम सब हिन्दू, माता के रूप में मानते है ! और यह कोई नयी शुरू होने वाली मानयता नही है! यह वेदों – ऋषियों के काल से चली आ रही मानयता है! प्राचीन समय से ही गाय दान करना बहुत पुण्य का कार्य मन जाता था! पहले भी राजा महाराजा,ऋषियो मुनियो […]

Festivals of India revoiceindia

भारत के त्यौहार

त्यौहार    आज मनुष्य चाँद पर पहुच गया है ! हम विज्ञान का युग में जी रहे है!  विज्ञानं और तकनिकी के क्षेत्र में एक के बाद  महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल कर रहे है है । जीवन के लगभग सभी क्षेत्रों में नित नए अनुसंधान एवं प्रयोगों के माध्यम से मनुष्य विकास की ओर अग्रसर हुआ […]

conditions of deadbodies revoiceindia

शवो की ऐसी दुर्दशा

जङ होता समाज    अंतिम  संस्कार  जीवन का आखिरी संस्कार है । परिजन मृत व्यक्ति का अंतिम संस्कार  पूरे विधि विधान से करते है । पर मरने के बाद शवो की दुर्दशा के मामले केवल प्रशासन ही नही पूरे समाज बल्कि यूँ  कहे कि पूरी मानवता को शर्मसार कर रहे  है। लावारिस शवो की दुर्गति […]

jail breads revoiceindia

जेल मे रोटिया तो मिलती है

जेल मे रोटिया तो मिलती है     बाहर मिले न मिले, जेल के अंदर कम से कम रोटी मिलने की गारंटी होती है । कुछ लोग तो सिर्फ इसलिए जेल चले जाते है कि कम से कम उन्हें दो वक्त की रोटी तो नसीब होगी। बड़ी जेलो  मे हर रोज हजारो की संख्या मे […]

हङताल प्रभावकारी कम revoiceindia

हङताल प्रभावकारी कम – जनजीवन पर प्रभाव ज्यादा

हङताल प्रभावकारी कम – जनजीवन पर प्रभाव ज्यादा    हङताल से और कुछ हो न हो, सामान्य जनजीवन सबसे ज्यादा प्रभावित होता है । हाल ही में हुई मजदुर संघटनो की हड़ताल से बैकिंग, सरकारी कार्यालयो, अस्पतालो, परिवहन सभी बुरी तरह प्रभावित हुआ । बैंको मे काम काज ठप रहा। रोडवेज कर्मचारियों की हङताल ने […]