“जियो” की सुनामी

reliance jio revoiceindia
“जियो” की सुनामी 
 
भारत में दूरसंचार क्षेत्र में कड़ी प्रतिस्पर्धा है! ! अब तक इन्टरनेट  डाटा के नाम पर आइडिया, एयरटेल और वोडाफोन कंपनिया   ग्राहकों को  लूटती आ रही है!  ग्राहक 250 रुपये में 3G डाटा खरीदता है,  तो ये कंपनियां दो दिन बाद उसकी स्पीड 2G में बदल देती है!  अगर ग्राहक 2G डाटा खरीदता है,  तो ये कंपनिया डाटा की स्पीड इतना स्लो कर देती है  कि ग्राहक  व्हाट्सअप के  सिवा कुछ भी नहीं खोल पाता है ! जिसकी वजह से ग्राहक पूरा डाटा इस्तेमाल नहीं कर पाता था और ये कंपनियां डाटा बचाकर मुनाफ़ा कमाती थीं! लेकिन मुकेश अम्बानी से ऐसी घोषणा कर दी है कि अब जिन कंपनियों ने आपको लूटा होता वे स्वयं आप पर लुटाएंगी वरना उन्हें अपने ग्राहकों से हाथ धोना पड़ेगा। जिस स्पीड से रिलायंस “जियो” के प्रति लोगों में आकर्षण बढ़ा है उसे देखकर लग रहा है आइडिया, एयरटेल और वोडाफोन “जियो” की सुनामी में बह जाएंगी!  सबसे सस्ते रेट में डाटा मिलने के कारण अब  ग्राहक  रिलायंस “जियो” पर टूट पड़े हैं। रिलायंस “जियो” का संचालन 5 सितंबर से शुरू होगा और घरेलू कॉल इस पर हमेशा मुफ्त रहेगा! वॉयस कॉल के लिए पैसे नहीं देने पड़ेंगे। रोमिंग के लिए किसी प्रकार का शुल्क नहीं चुकाना होगा। इसके अतिरिक्त दूसरी दूरसंचार कंपनियों की 250 रुपये प्रति जीबी डेटा की बजाय “जियो” 50 रुपये प्रति जीबी पर डेटा उपलब्ध कराएगा। “जियो” दुनिया का सबसे बड़ा 4जी नेटवर्क बन चुका है।  अब समूचा भारत एक होगा, भारत “जियो” नेटवर्क के साथ नए युग में पहुंच रहा है।
loading...