भारत में रोग के मामले

492321tuberculosis-5-55b32ad7de97f_l
भारत में रोग के मामले 
 
 भारत में रोग के बढ़ते हुए मामले देश और हमारे दोनों के हित में नही है! दिन  ब दिन बढ़ती रोगिया की संख्या हम सबके लिए परेशानी का कारण बन चुकी है ! आंकड़ो  को देखे तो भारत में हर तीसरा  बच्चा कुपोषण को शिकार है ! ऐसे बच्चो में जन्म से ही  रोग विकसित हो जाते है ! जन्मजात गंभीर शारीरक व् मानसिक विकार कुपोषण का ही परिणाम होते है !  इसके साथ साथ आधिनिक युग में मानव की बदलती जीवन शैली ने भी नए नए रोग उत्त्पन कर दिए है ! जिसमे मधुमेह, महिलाओ में बढ़ते स्तन कैंसर, सर्वाइकल कैंसर, बच्चो में बढ़ते अस्थमा रोग अहम है ! भारत में एचआईवी एड्स के रोगी भी बड़ी संख्या में है ! कैंसर की ही तरह एचआईवी एड्स भी एक जानलेवा बीमारी है। जो लगातार भारत में अपने पैर पसार रही है ! नवीन जीवन प्रणाली, आरामतलब जीवन, तनाव आदि से   मोटापा और दिल की बीमारियों में भी तेजी आई है! दिन ब दिन भारत में बढ़ते प्रदूषण ने भी शवसन  संबंधी कई रोग पैदा कर दिए है! जिसमे बड़े ही नहीं बच्चे भी शामिल है !  प्रदूषित वायु से लोग अस्थमा और इससे सम्बन्धित फेफड़ो की बीमारियों से ग्रसित हो रहे है ! जहरीली वायु, गंदे  पानी अiदि से पेट समन्धि रोग बड़ रहे है ! इसके अतिरिक्त भारत में फ़ास्ट फ़ूड का बढ़ता चलन रोगों को बढ़ाने में मुख्या भूमिका निभा रहे है ! इसके चलते बच्चो और नव-युवको में अत्यधिक मोटापा और पेट समन्धि रोग बड़ रहे है ! मनुष्य जीवन में यह फ़ास्ट फ़ूड धीमे जहर का काम कर रहा है ! भारत में रोगों के बढ़ते मामले और इसकी चपेट मे आने वाले लोगो की बढ़ती संख्या गंभीर चिंता का विषय है ! 
loading...