चारों तरफ जय माता दी छाई हुई है -फिर ये वृद्ध आश्रमों में किसकी मां आई हुई है!!

Mother and two children contemplating over life.
हिन्दू आस्था पर चोट करने के लिये कुछ लोग ऐसे सन्देश फैला रहे।
चारों तरफ जय माता दी छाई हुई है -फिर ये वृद्ध आश्रमों में किसकी मां आई हुई है!! 🙏😞
उनको मेरा जवाब
वृद्धा आश्रम में माता जी इसीलिये आ रही हैं क्यों कि लोग भारतीय सभ्यता संस्कृति से दूर हो गये हैं।
पाश्चात्य के पीछे भागते भागते अपने नैतिक मूल्य खो चुके हैं, जिस देश में लोग माता पिता को ईश्वर से ऊपर रखते थे आज घर में स्थान नहीं दे पा रहे, हमारी संस्कृति में कभी वृद्धाश्रम की परिकल्पना ही नहीं थी।
जिस देश में लोग पित्तरों को पूजते हैं घर से कैसे निकाल सकते??
पर जब घर में हम बच्चों को कान्वेंट स्कूल में पढ़ाकर अपनी जिम्मेदारी से इतिश्री कर लेते, संस्कार दूर तक नहीं देते,रामायण की जगह बच्चे बच्चे सिर्फ कार्टून देख कर शेक्सपियर और चेतन भगत की प्रेमकहानी पढ़ेंगे तो बच्चे रोमियो बनेंगे राम नहीं।
loading...